प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (Hindi) – (Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana)

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना: प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना भारत की युवा पीढ़ी के लिए  एक नई पहल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू इस रोजगार योजनां से देश के हर युवा को आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनाने के लिए है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY)  का मुख्य उद्देश्य युवाओं को प्रोत्साहित करने और आज के बेरोजगार लोगों के कौशल विकास को बढ़ाने के लिए है।

हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुसार “स्किलिंग” से एक बेहतर भारत का निर्माण हो सकता है, हम विकास की ओर आगे बढ़ सकते हैं इसलिए देश को आगे बढ़ाने के लिये कौशल भारत हमारा मिशन होना चाहिए।

PMKVY में ‘कौशल‘ शब्द भारत के पाठ्यक्रम और उद्योग के लिए योग्य लोगों को नौकरियों में से प्रत्येक को नौकरी प्रदान करने के लिए, अपने कौशल के आधार पर पूर्ण प्रशिक्षण ‘कौशल’ को दर्शाता है| इसके अलावा PMKVY के तहत प्रशिक्षित लोगों को पुरस्कृत किया जाएगा, मूल्यांकन (नौकरी आधारित) और भारत सरकार कई पाठ्यक्रमों की इस योजना में चयनित कौशल के आधार पर संबद्ध प्रशिक्षण प्रदाताओं द्वारा चलायी जाएगी|

प्रधानमंत्री कौशल योजना के लिए निर्दिष्ट – समय अवधि:

  • PMKVY – के तहत भारत सरकार ने साल 2016 से 2020 तक के लिए समय अनुमोदित किया गया है।
  • PMKVY समय की उस अवधि तक 10 लाख से अधिक लोगो को रोजगार का लाभ दिया जाएगा।

आवंटित बजट: प्रभारी प्रधानमंत्री  कौशल विकास योजना के तहत (PMKAY) के लिए आवंटित बजट के रूप में 12,000 करोड़ तक  रूपये खर्च किये जाएँगे।

कौशल विकास मंत्रालय और उद्यमिता (MSDE):  PMAKY योजना और इस पाठ्यक्रम के तहत (आरपीएल) पहले सीखना तथा पुनर्गठन प्रदान किया जाएगा प्रमाण पत्र पर तत्पर होगा, जबकि राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) इस योजना के लिए कार्यान्वयन एजेंसी है।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के प्रमुख घटक:

  • शॉर्ट टर्म ट्रेनिंग – 60 लाख छात्रों के लिए अवसर प्रदान करने, प्रशिक्षित मूल्यांकन और प्रमाणित करने के लिए।
  • पहले सीखने की मान्यता – NSQF साथ व्यक्तिगत रूप से 40 लाख की दक्षता पंक्तिबद्ध है।
  • विशेष परियोजनाए – विशेष क्षेत्रों और सरकारी निकायों और कंपनियों के परिसर में प्रशिक्षण की सुविधा होगी।
  • कौशल और रोजगार मेला– योजना को व्यापक और सफलता सुनिश्चित करने के लिए प्रशिक्षण संसथान द्वारा हर छह महीने में कौशल और रोजगार मेला आयोजित किया जाएगा।
  • योग्यता आकांक्षा –  PMAKY उम्मीदवारों के ज्ञान के संभावित नियोक्ताओं को जोड़ने के लिए।
  • लगातार मॉनिटरिंग – तकनीकी ड्राइविंग के तरीके का उपयोग उच्च मानक गुणवत्ता प्रशिक्षण केन्द्रों द्वारा बनाए रखने के लिए सुनिश्चित करना है।
  • मानकीकृत ब्रांडिंग और संचार – जमीन के आधार पर महान दृश्यता और इस योजना का संचार का आश्वासन सुनिश्चित करना।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइटhttp://pmkvyofficial.org/

सरकारी ईमेल आईडी

ईमेल: PMKVY@nsdcindia.org

फैक्स: + 91-11-46560417

मोबाइल कोई पंजीकृत – 088000-55555

पत्र – ब्लॉक ए, क्लेरियन कलेक्शन,

शहीद जीत सिंह मार्ग,

नई दिल्ली – 110016

उद्देश्य और प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की विशेषताएं:

योजना का मुख्य उद्देश्य लोगों को विभिन्न कौशल में प्रशिक्षित किया जाए ताकि वे रोजगार और आर्थिक रूप से मजबूत बन सकें |

  1. रुपये के एक औसत मौद्रिक इनाम प्रदान करना। 8000 / – प्रति लाभार्थी को, जो की उम्मीदवारों को कौशल प्रशिक्षण के दौरान दिया जाएगा |
  2. कौशल विकास योजना भी मौजूदा कर्मचारियों की उत्पादकता बढ़ाने के लिए और ट्रेन और उद्योग की जरूरतों के अनुसार उन्हें प्रमाणित करने के उद्देश्य से है।
  3. रोजगार क्षमता और युवाओं की उत्पादकता प्रोत्साहन कौशल प्रशिक्षण के लिए उनको बढ़ावा देने और कौशल प्रमाणन के लिए मौद्रिक पुरस्कार प्रदान करना।

PMKVY लक्ष्य और योजना परिव्यय – स्रोतों के आधार पर

  औसत इनाम राशि (रु।) भौतिक लक्ष्य(लाख में प्रशिक्षुओं की संख्या)  वित्तीय लक्ष्य (Rs.in करोड़)
ताजा प्रशिक्षण 8000 14 1120
आरपीएल (पहले सीखना को मान्यता) 2200 10 220
उप कुल 1340
जागरूकता और जुटाना 67
अनुपूरक सदस्यता और स्थान सेवाओं के लिए (5%) प्रोत्साहन 67
प्रशासनिक व्यय (2%), 26
कुल 24 1500

 

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लिए नामांकन के कैसे भरें : –

PMKVY (2016-2020) के तहत प्रशिक्षण केन्द्र शीघ्र ही पहचान की जाएगी।

इच्छुक उम्मीदवार अधिक जानकारी के लिए इस पृष्ठ पर उपडेट देखते रहे ।

मैं कदम-कदम पर हर जानकारी स्पष्ट तरीके से प्रदान कर रहा हूँ।

  1. प्रशिक्षण केन्द्र का पता लगाएं
  2. दाखिला लें
  3. कौशल प्रशिक्षण लें
  4. मूल्यांकन और प्रमाणित प्रमाण लें
  5. इनाम जीतें

PMKVY पाठक्रमों की सूची / नौकरीयों की भूमिका:

क्रम सं उद्योग / कौशल परिषद पाठ्यक्रम की संख्या / नौकरी भूमिकाओं
1         कृषि 39
2         परिधान 14
3         मोटर वाहन 51
4        सौंदर्य और वेलनेस 7
5        बीएफएसआई (बैंकिंग, वित्तीय सेवा और बीमा) 8
6        कैपिटल गुड्स 21
7        निर्माण 22
8         इलेक्ट्रानिक्स 11
9        खाद्य प्रसंस्करण 6
10        फर्नीचर फिटिंग 5
11         रत्न एवं आभूषण 24
12     ग्रीन नौकरियां 5
13     हस्तशिल्प और कालीन 100
14     हेल्थकेयर 21
15     इन्फ्रास्ट्रक्चर 17
16     आयरन एंड स्टील 36
17     आईटी और आईटीईएस 6
18          चमड़ा 21
19          लाइफ साइंस 1
20          रसद 18
21     मीडिया एंड एंटरटेनमेंट 22
22         खनन 15
23            पाइपलाइन 7
24            पावर उद्योग 5
25            खुदरा 5
26            रबड़ 20
27           सुरक्षा सेवाएँ 2
28           टेलीकॉम 12
29            कपड़ा 47
30          पर्यटन और आतिथ्य 4
31 विकलांगता के साथ व्यक्ति केलिए कौशल परिषद

 

6
                      कुल 577
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s